उमा भारती ने एक विधायक को गुस्से में कहा- चुल्लू भर पानी में डूब मरो

Bharatiya Janata Party leader, Uma Bharti,  speaks as she takes part in a protest to stop Indian government plans to construct dams on the river Ganges which would interrupt its flow, during a rally in New Delhi on June 18, 2012. The protesters are calling for the set up of a separate ministry under the Prime Minister for the conservation of the Ganges with a round-the-clock monitoring system. AFP PHOTO/ SAJJAD HUSSAIN        (Photo credit should read SAJJAD HUSSAIN/AFP/GettyImages)

केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती को बहुत जल्‍द गुस्‍सा आता है। किस बात पर उनको गुस्‍सा आ जाए पता नहीं। इस बार उमा भारती के गुस्से के शिकार झांसी के एक विधायक बने हैं। केंद्रीय जल संसाधन मंत्री और झांसी से सांसद उमा भारती ने अपनी पार्टी के ही विधायक को करारी झाड़ पिलाते हुए कहा कि चुल्लू भर पानी में डूब मरो। झांसी के सदर से विधायक रवि शर्मा को उमा भारती ने तमाम अधिकारियों के सामने लताड़ लगाई।

केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने बुरी तरह डांटा-

मामला झांसी की मेयर श्रीमती किरन वर्मा से जुड़ा है। किरन कुछ दिन पहले शहर कोतवाली इलाके में निरीक्षण करने के लिए गई थीं। आरोप है कि वहां कुछ ठेकेदारों ने मेयर के साथ अभद्रता की और जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल किया। साथ ही मेयर के मीडिया प्रभारी का मोबाइल भी छीन लिया। इस पर मेयर ने आरोपी ठेकेदारों के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई। इसके बाद ठेकेदारों की ओर से भी मेयर किरन वर्मा और उनके पति राजू बुकसेलर के खिलाफ घूस मांगने का मुकदमा दर्ज करा दिया गया।

मेयर की शिकायत है कि उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज होने से रोकने के लिए झांसी सदर विधायक रवि शर्मा ने कोई पहल नहीं की। इस पूरे मामले को जानकारी उमा भारती को हुई तो उन्होंने झांसी एसएसपी अखिलेश चौरसिया और एसपी सिटी दिनेश सिंह को सर्किट हाउस बुला लिया। विधायक रवि शर्मा भी पहुंच गये। अधिकारियों के सामने ही उमा भारती ने विधायक को खरी खोटी सुनाई।

मेयर पर दर्ज हुआ मुकदमा-

उमा भारती ने विधायक से कहा, ‘तुम्हें शर्म आनी चाहिए और चुल्लू भर पानी में डूब मरना चाहिए. तुम्हारी पार्टी की मेयर पर मुकदमा दर्ज हो गया और तुम हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *