केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा की हालत में सुधार, एम्स में होगा दायें हाथ का ऑपरेशन!

2016_12largeimg24_dec_2016_093518652नयी दिल्ली/गोरखपुर : बाराबंकी से लौटते वक्त शुक्रवार की शाम को गोरखपुर की ताप्ती नदी के पुल पर सड़क हादसे में घायल हुए केंद्रीय मंत्री मनोज कुमार सिन्हा शनिवार को दिल्ली ले जाया जा रहा है. फिलहाल, वे गोरखपुर स्थित रेलवे के अस्पताल में ही हैं, जहां उनकी हालत में सुधार बताया जा रहा है. सड़क हादसे में उनके दाएं हाथ की हड्डी टूट गयी है, जिसका ऑपरेशन दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में होगा. इस बीच सूचना यह भी मिल रही है कि शनिवार को पूर्वांचल के कुशीनगर में होने वाले उनके सभी कार्यक्रमों को रद्द कर दिया गया है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार को सड़क हादसे में घायल हुए केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा को एयर एंबुलेंस से गोरखपुर से दिल्ली ले जाया जायेगा. वहां पहुंचने के बाद एम्स मे उनके दाएं हाथ का आपरेशन किया जायेगा. केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा इस समय गोरखपुर के रेलवे अस्पताल में भर्ती हैं. पूर्वोत्तर रेलवे के सीपीआरओ ने बताया कि केंद्रीय मंत्री सिन्हा की हालत में सुधार हुआ है. उन्होंने बताया कि डॉक्टर की सलाह पर बेहतर इलाज के लिए उन्हें दिल्ली के एम्स ले जाया जा रहा है. एम्स में उनके दाएं हाथ का ऑपरेशन किया जायेगा.

शुक्रवार को काफिले की गाड़ी आपस में टकराने से हुआ था हादसा

केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा (57) के काफिले की गाड़ियां शुक्रवार की शाम उत्तर प्रदेश में गोरखपुर शहर के पास एक व्यक्ति को बचाने के चक्कर में आपस में ही टकरा गयीं, जिससे केंद्रीय मंत्री सिन्हा घायल हो गये. उत्तर पूर्व रेलवे के सीपीआरओ संजय यादव ने बताया कि दुर्घटना में केंद्रीय मंत्री सिन्हा की बायीं बांह टूट गयी है. इस हादसे के तुरंत बाद उन्हें पहले तो अपोलो हॉस्पिटल में दाखिल कराया गया, लेकिन बाद में उन्हें रेलवे के अस्पताल में ले जाया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है.

बाराबंकी में परिवर्तन सभा को संबोधित कर आ रहे थे गोरखपुर

बताया जा रहा है कि केंद्रीय मंत्री के साथ यह हादसा तब हुआ जब वे शुक्रवार की शाम करीब सवा सात बजे बाराबंकी में आयोजित परिवर्तन सभा को संबोधित कर गोरखपुर वापस लौट रहे थे. बाराबंकी से वापसी के दौरान गोरखपुर के पास में ताप्ती नदी पुल पर बाराबंकी की ओर से गोरखपुर आ रहे थे.

गोरखपुर के पास ताप्ती नदी के पुल पर आपस में टकरायीं काफिले की गाड़ियां

सरकारी समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, ताप्ती नदी के पुल पर एक आदमी को बचाने के चक्कर में केंद्रीय मनोज सिन्हा के काफिले की गाड़ियां आपस में टकरा गयीं. वहीं, मीडिया में आ रही रिपोर्ट के अनुसार, यह हादसा एक बच्ची को बचाने के दौरान हुआ. बताया यह भी जा रहा है कि बाराबंकी में सभा से लौटने के बाद केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा को गोरखपुर में ही रात्रि विश्राम करना था.

एक आदमी की जान बचाने में हुआ हादसा

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, दुर्घटना उस वक्त हुई, जब काफिले में मंत्री की कार के आगे के वाहन ने एक व्यक्ति को बचाने के लिए अचानक ब्रेक लगायी. सिन्हा जिस कार में सवार थे, उसने आगे वाले वाहन को पीछे से टक्कर मार दी और इसके चलते मंत्री को चोट लगी. सीपीआरओ संजय यादव का कहना है कि मंत्री को शनिवार की सुबह हवाई मार्ग से दिल्ली ले जाया जायेगा.

पासवान और प्रभु ने जताया दुख

इस हादसे के बाद रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने ट्वीट किया कि अपने सहकर्मी और मित्र मनोज सिन्हा की दुर्घटना की खबर जानकर स्तब्ध हूं. उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. वहीं, केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने भी ट्वीट कर कहा कि अपने सहकर्मी मंत्री और मित्र मनोज सिन्हा जी की दुर्घटना की खबर सुनकर बहुत दुख हुआ. मैं उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *