नोटबंदी के बाद टैक्‍स और राजस्‍व के आंकड़ों में इजाफा: जेटली

jaitley_20161229_155948_29_12_2016नई दिल्ली। पुराने नोट बदले जाने की मियाद खत्म होने से ठीक एक दिन पहले केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने नोटबंदी का साथ देने के लिए लोगों का शुक्रिया अदा किया। उन्होंने बताया नोटबंदी के बाद डायरेक्‍ट टैक्‍स में इजाफा हुआ है।

जेटली ने नोटों की उपलब्‍ध्‍ता पर बोला कि आरबीआई के पास भारी मात्रा में नकदी मौजूद है और 500 रुपए के ज्यादा नोट प्रचलन में लाए जा रहे हैं। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि बीते साल के मुकाबले रबी की फसल बेहतर हुई है। पुराने नोट बैंक में जमा करने की आखिरी तारीख 30 दिसंबर है, साथ ही बैंक से जमा निकासी पर जारी लिमिट की भी यह आखिरी तारीख है। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने नोटबंदी का फैसला बीते 8 नवंबर को लिया था।

जेटली और क्या बोले:

  • डॉयरेक्ट टेक्स में नेट 13.6 फीसदी का इजाफा हुआ है।
  • इस साल रबी की फसल बीते साल के मुकाबले 6.3 फीसदी बेहतर रही है।
  • पुरानी करेंसी का एक बड़ा हिस्सा बदला जा चुका है।
  • प्रचलन में तेजी से लाए जा रहे हैं 500 रुपए के पुरान नोट।
  • बाजार की जरूरत को देखते हुए नकदी की उपलब्धता जारी रहेगी।
  • बैंकों की उधार देने की क्षमता बढ़ी है और राजस्व के आंकड़ों में भी इजाफा हुआ है।
  • दिसंबर मध्य तक इनकम टैक्स में नेट इजाफा 14.4 फीसदी का रहा है।
  • नवंबर 30 तक केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर में 26.2 फीसदी का इजाफा हुआ है।
  • नवंबर महीने में सालाना आधार पर अप्रत्यक्ष कर में भी खासी तेजी देखने को मिली है।
  • नकदी की स्थिति हफ्तों और आने वाले महीनों में ज्यादा बेहतर होनी चाहिए।
  • बैंकों में जितना भी पैसा आ रहा है वो अकाउंटेबल है, साथ ही इससे टैक्स कलेक्शन पर पड़ने वाला असर भी पूरी तरह साफ दिखाई दे रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *