सपा का ‘दंगल’ : आर-पार के मूड में अखिलेश, ने बुलायी विधायकों की बैठक

o-akhilesh-yadav-facebookलखनऊ : उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ सपा के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को आगामी विधानसभा चुनाव के लिए 325 उम्मीदवारों के नामों की सूची जारी कर दी. इस फेहरिस्त में जहां मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कई करीबी मंत्रियों के टिकट काट दिये गये हैं, वहीं कई ऐसे नाम भी शामिल हैं, जिन पर अखिलेश को ऐतराज था.

मुलायम ने यहां प्रेस कॉन्फ्रेंस में सपा के उम्मीदवारों की सूची घोषित की, जिसमें 176 वे सीटें हैं, जिन पर मौजूदा समय में सपा के विधायक हैं. 149 वे सीटें हैं, जिन पर सपा के विधायक नहीं हैं. बाकी 78 सीटों पर ‘सर्वे पूरा ना होने’ के कारण उम्मीदवार तय नहीं किये जा सके हैं. मुलायम ने दावा किया कि टिकट को लेकर पार्टी में कहीं कोई विवाद नहीं है. यह सूची खुद को प्रत्याशी चुनने का अधिकार देने की मांग करनेवाले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के लिए करारा झटका है, जिन्होंने पिछले दिनों सपा मुखिया को 403 उम्मीदवारों की अपनी फेहरिस्त दी थी. यह पूछे जाने पर कि सूची में अखिलेश की पेशकशवाले कितने उम्मीदवार शामिल हैं, मुलायम ने कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री के साथ-साथ कई नेताओं ने अपनी-अपनी सूची दी थी, उन सभी में से उम्मीदवारों को ‘एडजस्ट’ किया गया है. अब इसमें कोई फेरबदल नहीं होगा.

किसी भी दल से गंठबंधन नहीं करेगी सपा : कांग्रेस और रालोद के साथ गंठबंधन की सरगर्म चर्चा के बीच मुलायम ने कहा कि उनकी पार्टी किसी भी दल से गंठबंधन नहीं करेगी और उत्तर प्रदेश विधानसभा की सभी 403 सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

मुख्यमंत्री नाराज, आज बुलायी बैठक

टिकट बंटवारे से नाराज मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल के दो करीबियों संदीप शुक्ला और सुरभि शुक्ला से राज्यमंत्री से दर्जा छीन लिया है. संदीप शुक्ला सरकार में बतौर सलाहकार काम कर रहे थे, जबकि उनकी पत्नी सुरभि शुक्ला आवास विकास परिषद की उपाध्यक्ष थीं. अखिलेश ने टिकट ना पानेवाले विधायकों, मंत्रियों की गुरुवार को बैठक भी बुलायी है.

टकराव की स्थिति

सीतापुर के बिसवां से रामपाल यादव को प्रत्याशी बनाया गया है. अखिलेश ने प्रदेश अध्यक्ष रहते रामपाल को पार्टी से निष्कासित कर दिया था, लेकिन प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने परसों उनका निष्कासन रद्द कर दिया.

शिवपाल पड़े भारी
मंत्री गायत्री प्रजापति, नारद राय, माफिया अतीक अहमद, मुख्तार अंसारी के भाई सिबगतुल्ला अंसारी को टिकट

जारी की गयी सपा प्रत्याशियों की सूची में कुछ नाम नहीं हैं. मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष जी से कहूंगा कि जिन लोगों ने अच्छा काम किया है और जो जीत सकते हैं, उन्हें टिकट दिया जाये.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *