PM Modi जब तक रिजाइन नहीं कर देते, जारी रहेगा नोटबंदी के खिलाफ आंदोलन : लालू

2016_12largeimg29_dec_2016_072123475पटना : बिहार की राजधानी पटना समेत राज्य के सभी जिला मुख्यालयों में बुधवार को राजद की ओर से नोटबंदी के खिलाफ धरना दिया गया और जिलाधिकारियों के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मेमोरेंडम सौंपा गया. पटना के गर्दनीबाग में पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद स्वयं धरना में शामिल हुए. इस मौके पर उन्होंने कहा कि नोटबंदी के माध्यम से घर-घर घुस कर पीएम मोदी ने गरीबों के पेट पर लात मारी है. लालू ने कहा कि कारोबार ठप हो गया है. दूसरे राज्य में काम करनेवाले बिहार के 40 लाख लोगों का रोजगार छिन गया है. छठ की  तरह लोग दिल्ली, पंजाब, बंगाल आदि जगहों से लौट रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि जब तक पीएम मोदी रिजाइन नहीं कर देते, राजद का आंदोलन जारी रहेगा.
 
राजद सुप्रीमो लालू ने कहा कि हम बैठनेवाले नहीं हैं. एक सप्ताह में रैली की तिथि घोषणा करेंगे. नीतीश कुमार भी नोटबंदी की समीक्षा कर रहे  हैं. हम पूरे विपक्ष को आंदोलन के लिए आमंत्रित करेंगे. बिहार से जो आंदोलन की हवा चली है, वह रुकनेवाली नहीं है. जब तक पीएम रिजाइन नहीं कर देंगे, तब तक राजद आंदोलन जारी रहेगा. उन्होंने कहा, मोदी कहते थे कि देश का पैसा स्विस बैंक में है. उसे वापस लाया जायेगा. देश के सभी लोगों के खातों में 15-15 लाख रुपये दिये जायेंगे. मोदी के इस बयान को देश का एक-एक बच्चा भी जानता है. इनके झांसे में आकर बच्चों ने अपने मां-पिता को मोदी को वोट देने के लिए कहा था. हमने लोगों को अगाह भी किया था, लेकिन लोग झांसे में आ गये. 
 
मोदी बंदर की तरह कूद-कूद कर कहते थे कि नाैकरी देंगे. किसानों की उपज की लागत से डेढ़ अधिक मूल्य देंगे. जहां जाते थे,  लक्ष्मी बरसाते थे. पर लोगों को कुछ नहीं मिला. बैंक का पैसा इनके चहेते लेकर भाग गये. यही है अच्छे दिन.  नोटबंदी के बाद मेरे परिचित बुल्लु व्यापारी ने बताया कि व्यापार आधा पर आ गया है. यही हाल रहा, तो पूरा व्यापार ठप हो जायेगा.  नोटबंदी के कारण बिहार में भवन समेत अन्य के निर्माण का काम ठप पड़ गया है. देश का जीडीपी 2.5 प्रतिशत घट गया है. पूरे देश का बुरा  हाल है. मोदी के नेतृत्व में देश अार्थिक गुलामी और तानाशाही की ओर बढ़ रहा  है.
 
नोटबंदी के चक्कर में चले गये थे मोरारजी देसाई
 
लालू प्रसाद ने कहा कि एक बार मोरारजी देसाई ने भी नोटबंदी की थी. इसी में वह चले गये. आज इस वजह से शादी विवाह बंद हो गया है. सात बजे शाम में पटना शांत हो जाता है. कहीं आइसक्रीम और चाट की दुकानें नहीं चल रही हैं. आम लोग तबाह है. जनता इनको इसके लिए सबक सिखायेगी. अपने तो बिहार में काला धन से अरबों की जमीन खरीदा. इसकी जांच राज्य सरकार कर रही है. यूपी चुनाव में इनका भट्ठा बैठने ही वाला है. बिहार के चुनाव में खरबों खर्च किया था. नीतीश कुमार और बिहार के डीएनए में दोष बताया था. बिहार की जनता ने उनको जवाब दिया. टीवी में 50 दिनों की मांग की थी. आज वह पूरा हो गया है.
 
राहुल गांधी के आरोप का जवाब दें
 
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले तो प्रधानमंत्री सहारा डायरी मामले में  40 करोड़ लेने के राहुल गांधी आरोप का जवाब दें. वे भाग क्यों रहे हैं? अपने को फकीर कहते हैं. सूट-बूट पहन कर फकीर बनते हैं. ऐसा अपने को कहते है, जैसे वह महात्मा बुद्ध हैं. राहुल ने गलत आरोप लगाया है, तो मानहानि का मुकदमा क्यों नहीं कर रहे हैं? 24 जनवरी को इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में फैसला होनेवाला है. ये सभी लोग फसेंगे.  प्रसाद ने कहा कि सूट-बूट पहन कर पीएम अमेरिका गये. वहां दवा कंपनियों के चीफ से मिले और भारत में दवाओं की कीमतें बढ़ गयीं. 
 
पीएम बिहार का चौराहा नहीं चुनें
 
उन्होंने कहा कि देश के लोगों से पीएम ने 50 दिनों का समय मांगा था. अब यह पूरा हो गया है. अब वह चौराहा चुनें, जहां जनता उनका सजा देगी. हम नहीं चाहते हैं कि वह बिहार में चौराहा नहीं चुनें. उधर ही कहीं किसी राज्य में चौराहा चुन लें. दिल्ली में चुनें, वहां केजरीवाल का राजपाट है. पीएम हैं वचन से पलटें नहीं. अपनी बात पर कायम रहें.  वे आजकल पेटीएम-पेटीएम कर रहे हैं. यह चीन की कंपनी है. सारा पैसा चीन जा रहा है. उन्होंने कहा कि रुपया छापने की चार में से एक मशीन टू्ट गयी है. तीन मशीनों से एक साल में भी नोट छापने का काम पूरा नहीं होगा. 
 
रविशंकर का भी नाम सहारा डायरी में  : सहारा डायरी में केंद्रीय मंत्री रविशंकर का भी नाम शामिल है.  बिहार के तीन मंत्री पीएम के टीटीएम में लगा रहते हैं. इसी कारण से पूरा  देश ही परेशानी में फंसा हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *