नोटबंदी के खिलाफ कांग्रेस का जन-वेदना सम्मेलन आज, राहुल गांधी करेंगे अगुवाई

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आज कांग्रेस के राष्ट्रीय सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे। इस सम्मेलन का नाम ‘जन वेदना सम्मेलन’ दिया गया है। इस सम्मेलन में कांग्रेस नोटबंदी के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरने की तैयारियों पर चर्चा करेगी। राहुल गांधी की अध्यक्षता में हो रहे सम्मेलन में देश भर से तकरीबन 5000 कांग्रसी नेता और कार्यकर्ता हिस्सा लेंगे। 
150528121311_rahul_gandhi_624x351_reuters
 
जन वेदना सम्मेलना में मोदी सरकार के ढाई साल के कामकाज की समीक्षा भी की जाएगी और आगमी विधानसभा चुनावों पर मोदी सरकार को किन बिंदुओं पर घेरा जा सकता है इसकी चर्चा होगी। साथ ही पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की रणनीति पर भी चर्चा होगी। इस सम्मेलन को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस के दूसरे वरिष्ठ नेता भी संबोधित करेंगे।

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक और पार्टी के स्थापना दिवस के बाद ये तीसरा बड़ा मौका होगा जब राहुल गांधी कांग्रेस के किसी सम्मेसन की अध्यक्षता करेंगे। इसे राहुल की अध्यक्ष पद पर ताजपोशी के संकेत के तौर पर भी देखा जा रहा है।

कांग्रेस जन-वेदना सम्मेलन के माध्यम से सीधे तौर पर केंद्र सरकार के खिलाफ जनआंदोलन छेडने की तैयारी कर रही है। वहीं कांग्रेस हर हाल यूपी में अपनी मौजूदगी दिखाना चाहती है। यूपी को लेकर प्रियंका लगातार वहां के नेताओं के संपर्क में हैं। 

देश भर के प्रतिनिधियों के बीच होंगे राहुल

राहुल गांधी ने हाल में कांग्रेस संसदीय दल की बैठक और कार्यसमिति की बैठक की अध्यक्षता की। विपक्षी दलों के साथ हुई बैठकों में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। पहला मौका होगा जब राहुल देश भर से जुट रहे पार्टी प्रतिनिधियों के सम्मेलन को संबोधित करेंगे। आलाकमान कांग्रेस जनों को सम्मेलन के माध्यम से मैसेज देना चाहती हैं कि उन्होंने बागडोर राहुल को सौंप दी है। सम्मेलन में पांच हजार प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं। 

सोनिया पीछे हटीं, राहुल के घर पर शिफ्ट हुआ कांग्रेस का पॉवर सेंटर

कांग्रेस का केंद्र अब 10 जनपथ (सोनिया गांधी का आवास)की जगह 12 तुगलेक लेन (राहुल गांधी का आवास) बन गया है। विदेश से लौटे राहुल से मिलने के लिए मंगलवार को कांग्रेस  अध्यक्ष सोनिया गांधी और राजनीतिक कामकाज में राहुल का हाथ बंटाने वाली  प्रियंका वाड्रा 12 तुगलक लेन पहुंची। इसके बाद कई वरिष्ठ नेता भी उनके  आवास पर मिलने  पहुंचे। बैठकों के इस दौर के बाद राहुल सोनिया को खुद गाड़ी ड्राइव कर उन्हें 10 जनपथ छोड़ने गए। 
उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पार्टी का अध्यक्ष बनाने की औपचारिक घोषणा भर होनी है। बुधवार को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में होने वाले जन-वेदना सम्मेलन की अध्यक्षता राहुल ही करेंगे। कांग्रेस अध्यक्ष देश भर से जुट रहे प्रतिनिधियों को मैसेज देना चाहती है कि उन्होंने पार्टी की बागडोर राहुल को सौंप दी है। बता दें कि 8 नवंबर को भी सोनिया के कार्यसमिति की बैठक में न आने पर राहुल ने अध्यक्षता की थी।

चूंकि बुधवार का दिन कांग्रेस के लिए अहम है। लिहाजा मंगलवार  को भविष्य की रणनीति, पार्टी को लोकप्रिय बनाने और नई दिशा देने जैसे विषयों और कार्यक्रमों पर चर्चा भी हुई। यूपी के बदले राजनीतिक हालात में कांग्रेस की भूमिका क्या हो इस पर भी चर्चा हुई।  

कांग्रेस के बड़े नेता अब खुलकर कहने लगे है कि पार्टी का हस्तांतरण राहुल को हो चुका है। जिस पर कभी भी मुहर लग जाएगी। पांच राज्यों में चुनाव से संबंधित हाल में जो कमेटियां बनीं और फैसले लिए जा रहे हैं उसमें राहुल की ही भूमिका है। 

राहुल खुद ड्राइव करके सोनिया को घर छोड़कर आए

राहुल के आवास तुगलक लेन से दस जनपथ के बीच गुजरने वालों के लिए नजारा उस समय दिलचस्प रहा जब सड़क पर राहुल गांधी खुद गाड़ी ड्राइव करके मां और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को छोडने उनके आवास तक आए। 
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *