कैलाश बोले-कब आयेगी राहुल में गंभीरता

kailashvijayvargiya2नई दिल्ली:  कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी पर आज जमकर निशाना साधा। दरअसल कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी कांग्रेस के जनवेदना कार्यक्रम में उपस्थितों को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि कांग्रेस हिंदुस्तान के लोगों के साथ है और कहती है कि डरो मत। जबकि भाजपा केंद्र सरकार नोटबंदी, माओवाद आदि के नाम पर लोगों को डरा रही है। यह देश अक्लमंद देश है। उन्होंने कहा कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत को मूर्ख समझते हैं।

उनका कहना था कि भारत के सभी धर्मों में कांग्रेस का हाथ दिखता है। उन्होंने कहा कि वे पीएम से कहना चाहते हैं कि आखिर कालेधन की लड़ाई में कितना कालाधन वापस आया। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से लोग डर गए हैं। मगर जनता को डरने की जरूरत नहीं हैं। हम देश में बदलाव करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ एक्शन लेने की बात कही लेकिन इसी के कुछ दिन बाद आतंकी पकड़े गए। 

उनके पास से 2 हजार रूपए के नोट मिले लेकिन इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ भी नहीं कहा। कार्यक्रम में नरेंद्र मोदी हटाओ देश बचाओ के नारे भी लगे। उन्होंने कहा कि वे भारत को बेवकूफ बनाने की बात कर रहे हैं। वे कई तरह के कन्सेप्ट ले आए। मगर नोटबंदी के दौर में क्या इतने लोग कतार में लगे थे। आखिर वहां कोई भ्रष्ट नज़र आया। नहीं आया। वे आम लोग थे। उन्होंने जनार्दन रेड्डी को लेकर सवाल किए कि लोगों के पास 24 हजार रूपए की निकासी का अधिकार था और जनार्दन रेड्डी करोड़ों रूपए की शादी कर रहे थे। राहुल गांधी ने कहा कि जहां भी डिमोनेटाइजेशन हुआ वहां गरीबों का हक छिना गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया कि पीएम मोदी ने 12 सौ करोड़ रूपए की मिठाई उद्योगपति विजय माल्या को दी। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण का अभिनय कर उपस्थितों को केंद्र सरकार के खिलाफ जानकारी दी और इस दौरान उन्होंने कहा कि “आपका तो लगता है बस यही है एक सपना राम राम जपना और गरीब का माल अपना”। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण की स्टाईल में उपस्थितों से मित्रों संबोधन कर भी संवाद किया। उन्होंने सहारा के कथित दस्तावेज की प्रति दिखाते हुए घोटाले में भाजपा के नेताओं के लिप्त होने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि लोग देश के गांवों में जाऐं और बताऐं कि आरएसएस और भाजपा लोगों को डराकर नफरत फैला रहे हैं।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *